@bhiwani

लोहारू क्षेत्र की नहरों को 50 करोड़ की लागत से  किया जा रहा है पुनर्निर्माण : कृषि मंत्री 

एक साल की बजाय 3 महीने की रिकॉर्ड अवधि में होगा पूरा कार्य, सिवानी कैनाल के पुनर्निर्माण से होगी 50 क्युसिक पानी की बचत
CNFC News Behal/Loharu
प्रदेश के कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने  बताया कि लोहारू विधानसभा क्षेत्र के गावो के विभिन्न माइनरो व रजवाहो की पुनर्निर्माण के कार्य पर 50 करोड रुपए की राशि खर्च की जा रही है। इस कार्य को एक वर्ष की बजाए रिकॉर्ड समय तीन महीने में 31 मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए कई गावो के किसानो ने कृषि मंत्री व मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार व्यक्त किया है।
@loharu
 कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि मीठी डिस्ट्रीब्यूटरी के नव निर्माण  कार्य पर10 करोड़ रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी। मीठी डिस्ट्रीब्यूटरी का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर करवाया जा रहा है ताकि किसानों को खरीफ फसलों की बिजाई के लिए सिंचाई हेतु पर्याप्त मात्रा में नहरी पानी उपलब्ध करवाया जा सके।
मीठी डिस्ट्रीब्यूटरी का नव निर्माण 63 बुर्जी तक करवाया जाएगा। नव निर्माण कार्य के लिए एक वर्ष का समय निर्धारित किया गया था परन्तु 31 मार्च तक इस कार्य को पूरा करवा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि 15 बुर्जी तक के कार्य को रिकॉर्ड समय 15 दिन में पूरा करवाया जा चुका है। मिठी डिस्ट्रीब्यूटरी के नव निर्माण कार्य के पूरा होने के पश्चात गांव हरियावास, मंढोली कला, मंढोली खुर्द, गोपालवास, मिठी, मतानी, मोरका,सिवाच तथा ढाणी भाकरा के किसानों को पर्याप्त मात्रा में नहरी पानी मिलेगा । नव निर्माण कार्य सीसी लाइनिंग के तहत करवाया जा रहा है इससे पानी की भी बचत होगी। यह कार्य पूरा होने के बाद विभिन्न गांवों के जलघरों एवं जोहड़ों को भी पर्याप्त मात्रा में पानी की आपूर्ति की जा सकेगी। उन्होंने बताया कि लोहारू विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले के विभिन्न माइनरो/ रजवाहो की रीमॉडलिंग कार्य पर 50 करोड रुपए से भी अधिक की राशि खर्च की जाएगी। सिवानी क्षेत्र के सभी माइनरो की रीमॉडलिंग का कार्य भी एक वर्ष की बजाए रिकॉर्ड समय में आगामी 31 मार्च तक पूरा करवा दिया जाएगा।
              कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने बताया कि सिवानी कैनाल के पुनर्निर्माण का कार्य भी रिकॉर्ड अवधि में पूरा करवाया जाएगा। कार्य की तत्परता को देखते हुए तीन भागों में बांटकर अलग-अलग एजेंसियों को टैंडर दिया गया है। उन्होंने बताया कि 75 हजार600फिट लम्बाई निर्माण कार्य पर 20 करोड रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी। सिवानी कैनाल का तीन बुर्जी तक पुनर्निर्माण करवाया जा चुका है।यह कार्य होने से 50 क्यूसेक पानी की बचत होगी। उन्होंने बताया कि इससे सिवानी कैनाल के अंतर्गत आने वाले माइनरों की टेल तक पानी पहुंचेगा और किसानों की अधिक भूमि सिंचित हो सकेंगी।
@bhiwani
               श्री दलाल ने बताया कि लोहारू विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले विभिन्न माइनरों की रीमॉडलिंग का कार्य प्रगति पर है। मोतीपुरा डिस्ट्रीब्यूटरी के पुनर्निर्माण का कार्य 10 करोड़ की लागत से पूरा कर लिया गया है। सलेमपुर माइनर के रीमॉडलिंग कार्य पर एक करोड़ 10 लाख रुपए तथा सिधनवा माइनर के पुनर्निर्माण कार्य पर एक करोड़ 35 लाख रुपए की लागत आएगी। उन्होंने बताया कि सिधनवा माइनर के अंतर्गत 18 बुर्जी का नव निर्माण करवाया जाएगा । माइनर की चार बुर्जी तक के कार्य को पूरा करवाया जा चुका है। विभिन्न माइनरों एवं डिस्ट्रीब्यूटरी के नव निर्माण कार्य को 31 मार्च तक पूरा करवा दिया जाएगा।
          मोतीपुरा के किसान उमेद ने कहा कि जेपी दलाल का काम करने में कोई मुकाबला नहीं है । नहरों में टेल तक पूरा पानी पहुंचाना इनकी देन है।आज तक इन नहरों की संभाल करने वाला कोई नहीं था।
  गांव देवसर के किसान जोगिंदर सिंह ने कृषि मंत्री जेपी दलाल द्वारा लोहारू विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न माइनरों व रजवाहो के कार्य को लेकर कहा कि श्री दलाल लोहारू हलके के लिए भागीरथ बनकर आए हैं। उन्होंने कहा कि नहरो के दोबारा बनने का कार्य पूरा होने के पश्चात न केवल सिंचाई के लिए किसानों को पूरा पानी मिलेगा बल्कि पशुओं के लिए भी पानी की कोई दिक्कत नहीं रहेगी। यह किसान हितैषी कदम है।
                गांव लीलस के किसान अग्रसेन गोदारा ने कहा कि लोहारू क्षेत्र में कृषि मंत्री जेपी दलाल द्वारा करोड़ों रुपए की धनराशि खर्च करके सिंचाई के लिए जो कारगर कदम उठाए जा रहे हैं उनको देखकर पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी बंसीलाल की याद आ रही है। चौधरी बंसीलाल ने हल्के में विभिन्न माइनरों रजवाहो का निर्माण करवाया था लेकिन पिछले 20 -25 साल से इनमें पानी नहीं आयाथा। श्री दलाल दवारा किसानों को पर्याप्त मात्रा में नहरी पानी उपलब्ध करवाने के लिए जो प्रयास किए जा रहे हैं उनकी गांवों की जब उनका गुणगान करते नहीं थकते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *